Benefits of Patthar Chatta Benefits of Patthar Chatta
June172019

पत्‍थरचट्टा (Patharchatta) एक आयुर्वेदिक जड़ी बूटी है, पत्थरचट्टा का वैज्ञानिक नाम ब्रायोफिलम पिनाटा (Bryophyllum pinnatum) है। आमतौर पर पथरचटा को अन्‍य नामों जैसे कि मिरेकल लीफ (Miracle Leaf), एयर प्‍लांट (Air plant), कैथेड्रल वेल (Cathedral bells), लीफ आफ लाइफ (leaf of life) और गोएथे पौधे (Goethe plant) के रूप मे जाना जाता है। यह एक लोकप्रिय घरेलू पौधा है जो उष्‍णकटिबंधीय क्षेत्रों में प्राकृतिक रूप से होता है। यह क्रसुलाकेआ (Crassulaceae) परिवार से संबंधित है। पथरचटा के फायदे बहुत से घरेलू उपचारों के लिए उपयोग किये जाते है। पथरचटा के गुण पथरी हटाने, रक्‍तचाप, सिरदर्द, अस्‍थमा, मूत्ररोग आदि को ठीक करने के लिए जाने जाते है। आइये जाने पत्‍थरचट्टा के फायदे और पत्‍थरचट्टा के नुकसान) के बारे में।
पत्थरचट्टा का पौधा खाने में खट्टा और नमकीन होता है। यह स्वाद में भी स्वादिष्ट भी है।पत्थरचट्टा के दो पत्तों का तोड़कर उसे अच्छ से पानी में साफ कर लें। और सुबह-सुबह खाली पेट गरम पानी के साथ इसका

** नियमित इस्तेमाल करने से थोड़े ही दिनों में पथरी टूट कर शरीर से बाहर निकल जाएगी।

** पत्थरचट्टा के रस में आप सौंठ का चूर्ण मिलाकर सेवन करें। इससे पेट में होने वाले दर्द से भी राहत मिलती है।

** मूत्र संबंधी जितने भी रोग होते हैं उसमें भी पत्थरचट्टा बेहद लाभदायक दवा है।

** इस औषधि का सेवन करते समय चूना, बिना साफ किये हुए फल और अधिक चावल आदि का सेवन न करें।

** पथरी की मुख्य वजह कैलशियम होती है। शरीर में अधिक कैलशियम का होना पथरी का कारण बनता है।

** यह औषधि बेहद काम की है। पथरी से परेशान लोगों को इसका नियमित सेवन करना है। यह पौधा आप अपने घर में भी उगा सकते हो।

पौधा खरीदने के लिए संपर्क करें : +916398701038
ऑनलाइन बुक करें : https://bit.ly/2Jf4D8z

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

× How can I help you?